Friday, August 20, 2010

तुम्हारी याद......

तुम्हारे जाने से कितना सूना लगता है,

मन जाने क्यू बहुत उदास होता है,

तुम्हारी बाते याद आती है,

वो मुस्कराहट सताती है

Missing You So Much myspace comments

Saturday, August 14, 2010

क्या आपको याद है .....

आज चिन्मयी को अपनी आजादी की कहानिया सुना रही थी तब नेताजी का उल्लेख आया और ये गीत जहन में आया ।
यह गीत
भारतीय राष्ट्रीय सेना (Indian National Army-
आज़ाद हिन्द फ़ौज) के रेजिमेंट का quickmarch था।
यह गीत राम सिंह ठाकुर द्वारा रचित है, बाद में ये गीत देशभक्ति गीत बन गया, और वर्तमान में यहाँ गीत भारतीय सेना की रेजिमेंटल quickmarch है।
क्या आपको याद है ....

कदम कदम बढ़ाये जा
खुशी के गीत गाये जा
ये जिंदगी है क़ौम की
तू क़ौम पे लुटाये जा तू शेर-ए-हिन्द आगे बढ़
मरने से तू कभी न डर
उड़ा के दुश्मनों का सर
जोश-ए-वतन बढ़ाये जा कदम कदम बढ़ाये जा
खुशी के गीत गाये जा
ये जिंदगी है क़ौम की
तू क़ौम पे लुटाये जा हिम्मत तेरी बढ़ती रहे
खुदा तेरी सुनता रहे
जो सामने तेरे खड़े
तू खाक में मिलाये जा कदम कदम बढ़ाये जा
खुशी के गीत गाये जा
ये जिंदगी है क़ौम की
तू क़ौम पे लुटाये जा चलो दिल्ली पुकार के
ग़म-ए-निशाँ संभाल के
लाल क़िले पे गाड़ के
लहराये जा लहराये जा कदम कदम बढ़ाये जा
खुशी के गीत गाये जा
ये जिंदगी है क़ौम की
तू क़ौम पे लुटाये जा

Take all your steps forward
Sing songs of happiness as you go
This life belongs to motherland
Lay it down for her a hundredfold You are the Tiger of India
Do not ever fear death
Blow away the enemy's head
Raise the spirits of your comrades Take all your steps forward
Sing songs of happiness as you go
Your life belongs to the motherland
Lay it down for her a hundredfold Your courage is your strength
The Lord listens to you
As for he who stands in your way
Turn him into dust and stamp him into the ground Take all your steps forward
Sing songs of happiness as you go
This life belongs to motherland
Lay it down for her a hundredfold "For Delhi" you scream
Hold your banner high
Plant it on the Red Fort
And let it fly eternally Take all your steps forward
Sing songs of happiness as you go
This life belongs to motherland
Lay it down for her a hundredfold

जय हिंद


video

Friday, August 13, 2010

अंधेरा ... अंधेरा !

अंधेरा ... अंधेरा !

अंधेरे से डरना क्या,

पलके मूंदे बैठना क्या,

आँखे बंद रखो तो

छाया रहेगा अंधेरा,

मन की आँखे खोलो तो,

उजाला है जीवन सारा !

Friday, August 6, 2010

मेरा प्रोफाइल फोटो



दो दिनों पहले मेरे छोटे देवर अनिकेत का मेल आया “भाभी ये तस्वीर अपने प्रोफाइल से हटा दीजिए, देखकर डर लग रहा है” । उसके कुछ दिनों पहले प्रबाल, मेरा एक और देवर, परेशान था कि प्यारी भाभी ने ये क्या फोटो चुना । मेरी एक भांजी तो कहती है कि “मौसी, ये भूतनी की तस्वीर हटाओ” ।

२००७ में मैं ब्लॉग्गिंग शुरू की थी । तब से यही तस्वीर मेरा प्रोफाइल फोटो है । तब से ना जाने कितनी बार कितने दोस्त या रिश्तेदार इसे बदलने की मांग करते रहे हैं । अब तो ब्लॉग पर भी टिप्पणियां आने लगी है कि ये तस्वीर बदल दूँ, अच्छी नहीं लगती ।

दरअसल, यह तस्वीर मुझे बहुत खास लगती है । ये उन दिनो कि बात है जब मेरी नई नई शादी हुई थी । हम दोनों में मेरी तस्वीर को लेकर कुछ बहस हुई थी । मैं नाराज़ हो गयी थी । तब इन्द्रनील ने वादा किया था कि वो मेरी एक सुन्दर तस्वीर बनाएगा । उसके बहुत दिनों बाद उसने मुझे एक तस्वीर तोहफे में दी और कहा मैं ऑफिस जाने के बाद ही खोलना, मैंने बहुत मेहनत से बनायीं है । मैं भी मान गयी । जैसे ही वो ऑफिस में गया, मैंने उसे खोला, तो सामने यही तस्वीर थी । हालाँकि इस तस्वीर के इतिहास से मैं भलीभांति परिचित थी, पर उस वक्त मुझे काफी गुस्सा आया । पर तस्वीर के साथ एक पत्र था, और एक सुन्दर सी कविता । मैंने तभी से सोच लिया था, कि इन्टरनेट पर कभी अपना प्रोफाइल बनाऊँगी तो मैं इसी तस्वीर को लगाऊंगी । जब ब्लॉग खोला तो ये मौका मिल गया ।

ये तो एक मीठी सी याद है जो मैंने इस तस्वीर के साथ संजोये रखी है। पर मुझे इसका इतिहास भी उतना ही रोचक लगता है

यह तस्वीर एक अफगानी महिला शरबत गुला की है, जिसे १९८४ में अमरीकी पत्रकार Steve McCurry ने खिंची थी, जो 'नेशनल जियोग्राफिक' के १९८५ के जून संस्करण में, मुख्य पृष्ठ पर छपी थी । उसके बारे में नेट जगत में बहुत सारी जानकारीयां हासिल है । उसमें से कुछ चुनिन्दा वेब पते मैं नीचे दे रही हूँ ...

http://news.nationalgeographic.com/news/2002/03/0311_020312_sharbat_2.html

http://en.wikipedia.org/wiki/Afghan_Girl

http://www.cl.cam.ac.uk/~jgd1000/afghan.html

और यहाँ पर आपको हिंदी में जानकारी उपलब्ध हो जायेगी

http://sb.samwaad.com/2009/01/blog-post_22.html


सभी तस्वीरें विकिपीडिया और गूगल से साभार

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...